सिकन्दरपुर में डीएम-एसपी ने सुनी जनता की फरियाद कुल 74 शिकायत आई, 5 का कराया मौके पर निस्तारण

 


रिपोर्ट: विनोद कुमार

सिकन्दरपुर बलिया: जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही व पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताडा ने सिकन्दरपुर तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में जनता की फरियाद सुनी। जिस विभाग से  सम्बन्धित समस्या आई, उस विभाग के अधिकारियों को त्वरित निस्तारण कराने का निर्देश दिया। पैमाइस से जुड़े जमीनी विवाद के मामलों में जिलाधिकारी ने कहा कि राजस्व टीम नापी कर अगले थाना दिवस में ऐसे मामलों का निपटारा करा दें। एक बार फिर दोहराया कि किसी भी गांव में अविवादित वरासत का एक भी मामला लम्बित नहीं रहना चाहिए। इस अवसर पर कुल 74 शिकायत आई, जिनमें 5 का मौके पर निस्तारण कराया गया। शेष शिकायतों को संबंधित अधिकारियों को इस निर्देश के साथ सौंपा गया कि गुणवत्तापरक व समयांतर्गत निस्तारण सुनिश्चित कराएं।

डीएम श्री शाही ने कहा कि अधिकारी मनोयोग से लग जाएं तो अधिकांश समस्याओं का समाधान आसानी से समयान्तर्गत हो सकता है। यही इस समाधान दिवस का मुख्य उद्देश्य भी है। पेंशन, राशन, अवैध कब्जा, भूमि विवाद जैसे मामले प्रमुख रूप से आए। पुलिस से संबंधित मामलों को पुलिस अधीक्षक ने सुना और मातहतों को जरूरी दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर एसडीएम अभय सिंह, सीओ पवन कुमार, एसओसी धर्मराज यादव समेत अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

निर्माणाधीन स्पोर्ट्स कालेज का निरीक्षण

बलिया: सम्पूर्ण समाधान दिवस के बाद डीएम श्रीहरि प्रताप शाही ने पुर में निर्माणाधीन स्पोर्ट्स कॉलेज का निरीक्षण किया। बाउंड्री के बीच में बालेश्वर चौहान की 13 डिसमिल व्यक्तिगत जमीन के संबंध में जरूरी विचार विमर्श करना था, लिहाजा अपने साथ चकबन्दी विभाग के अधिकारियों की टीम भी ले गए थे। अधिकारियों ने चर्चा करने के बाद यह तय किया कि जरूरी प्रक्रिया को करने के बाद इनको उचित जगह पर जमीन दी जाएगी। इस दौरान चकबन्दी एसओसी धर्मराज यादव, लघु सिंचाई के अभियंता, खेल विभाग व कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधि थे।  

थाने की बाउंड्री के लिए तत्काल दें प्रस्ताव

बलिया: डीएम-एसपी ने पकड़ी थाने का भी निरीक्षण किया। थाने की बाउंड्री नहीं होने पर कहा कि इसके लिए प्रस्ताव बना कर दें। किसी वजह से पकड़ी गई या सीज की गई गाड़ियां खुले में रखी गई है, पुलिस कर्मियों का आवास भी खुले में है, लिहाजा यह कार्य अत्यंत आवश्यक है। थाने का मेस व रंग-रोगन बेहतर होने पर डीएम-एसपी ने सराहना भी की। महज कम खर्च में बेहतर मेस की व्यवस्था देख एसपी डॉ ताडा ने ऐसा ही मेस हर थाने पर बनवाने के संकेत किए। बन्दी गृह, कार्यालय के अभिलेख व मालखाना का भी गहन निरीक्षण किया। एसडीएम अभय सिंह, सीओ पवन कुमार साथ थे।


For More Updates visit www.sikanderpurlive.com thanks for visiting sikanderpur live
Previous Post Next Post