कोरोना के नाम पर पूरे देश में लूट मची है: रिजवी



सिकंदरपुर(बलिया) पूरे प्रदेश में कहीं भी गेहूं की खरीद नहीं हो रही है। प्रदेश सरकार द्वारा सिर्फ एफसीआई को खरीदने का अधिकार दिया गया है। एक ब्लॉक में एक ही  एफसीआई गोदाम होता है। पूरे ब्लॉक के किसानों का गेहूं एक दुकान पर कैसे खरीदा जा सकता है। एक सीआई को पूरे ब्लॉक के सस्ते गल्ले दुकानों को राशन भी मुहैया कराना पड़ता है ।उक्त बातें समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री मोहम्मद जियाउद्दीन रिजवी ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में कही। ने कहा कि पूरे प्रदेश में गेहूं खरीद के नाम पर सिर्फ दिखावा किया जा रहा है। किसानों का शोषण हो रहा है ।एफसीआई के गोदाम पर गेहूं लेकर पहुंचे किसानों को उनके घर लौटने पर मजबूर किया जा रहा है। किसान ओने पौने दाम पर बनियों को अपना गेहूं बेचने पर मजबूर है। जिससे किसानों को भारी नुकसान हो रहा है।किसी भी खाद के गोदामों पर डीएपी नहीं है। जबकि डीएपी का दाम बढ़ाकर भाजपा सरकार ने1100 रुपए प्रति बोरी से बढ़ाकर 1900रुपए प्रति बोरी कर दिया है। महंगाई चरम पर है खाद्य तेलों का दाम आम लोगों के बस के बाहर का हो गया है। सरसों का तेल ₹200 प्रति लीटर एवं रिफाइंड ₹180 प्रति लीटर बिक रहा है। 


डीजल पेट्रोल का दाम प्रतिदिन बढ़ाया जा रहा है जिससे महंगाई सुरसा की तरह मुंह फैलाए गरीबों को निकल रही है। कोरोना के नाम पर पूरे देश में लूट मची है। किसी भी अस्पताल में किसी प्रकार की कोई व्यवस्था नहीं है गांव में न तो जांच की व्यवस्था है।और ना ही इलाज की व्यवस्था है। जबकि कोरोना गांवो में अपना पैर फैला चुका है। प्रदेश और देश की दोनों सरकारें संवेदनहीन हो चुके हैं।


इनको गरीबों से कुछ लेना देना नहीं है दोनों सरकारें सिर्फ दो उद्योगपतियों की सरकार बन कर रह गई है। देश का मुखिया घड़ियाली आंसू बहा रहा है। यह सरकार नहीं चाहती कि देश और प्रदेश में कोई शिक्षित बने। क्योंकि शिक्षित होने पर आदमी सरकार से सवाल कर सकता है। इसलिए पूरे देश में शिक्षा को ये सरकार चौपट कर दिया है।


For More Updates visit www.sikanderpurlive.com thanks for visiting sikanderpur live
Previous Post Next Post