इलाज के दौरान आर्मी के जवान की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

 


रिपोर्टर - गोपाल गुप्ता

सिकन्दरपुर, बलिया। ग्रामसभा कोथ के खरीकही गांव निवासी 24 वर्षीय अमित कुमार यादव पुत्र बृजनाथ यादव जम्मू कश्मीर के ए एस सी में कार्यरत थे। अमित यादव 28 फरवरी को एक माह की छुट्टी आए थे और आते ही बीमार पड़ गए, जिनका प्राथमिक उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर 1 मार्च को हुआ। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों ने उसी दिन उन्हें जिला अस्पताल बलिया के लिए रेफर कर दिया।  बलिया के डॉक्टरों ने अमित को वाराणसी बीएचयू के लिए रेफर कर दिया। 2 दिन बीएचयू में इलाज के बाद अमित को कमांड हॉस्पिटल वाराणसी में भर्ती करा दिया गया। अमित यादव अंतिम सांस  11 मार्च को 8:00 बजे सुबह लिया और हर समय के लिए अलविदा हो गए। अमित के परिवार के लोगों ने अमित के शव को लेकर उसी दिन रात को अपने गांव आ गए और अमित के शव के साथ गोरखा रेजीमेंट के जवान वाराणसी से गांव पहुंचे और घाघरा नदी के किनारे कुतुबगंज घाट कठौड़ा पर दाह संस्कार किया गया। 


मुखाग्नि अमित के पिता बृजनाथ यादव ने दिया। जिस समय अमित भर्ती हुए थे 2014 में उस समय पिता बृजनाथ यादव को अमित यादव से बहुत उम्मीद थी। बुढ़ापा में लाठी का सहारा बनेंगे लेकिन नहीं हुआ। ईश्वर को जो मंजूर था वही हुआ। माता सूरसती देवी का रो रो कर के बुरा हाल था।  अमित का भाई अजीत भी आर्मी में कार्यरत है वह भी मौके पर मौजूद रहा है।


For More Updates visit www.sikanderpurlive.com thanks for visiting sikanderpur live
Previous Post Next Post