क्रांति नायक गोकरन का 102 साल में हुआ निधन

 



रिपोर्ट: विनोद कुमार

बलिया। 102 वर्ष की अवस्था पार कर चुके,1942 क्रांति के नायक तथा बैरिया थाना को आजाद कराने में अपना योगदान देने वाले प्रमुख  समाजवादी विचार धारा के नायक गोकरन गिरी का निधन रविवार की दोपहर 12:00 बजे उनके पैतृक आवास पर हो गया। वे अपने पूरे जीवन काल तक सामाजिक कार्यो में संलग्न रहे।गोकरन गिरि  गोपाल जी स्नातकोत्तर महाविद्यालय रेवती के बी.एड. विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ.सुदर्शन गिरि जी के पिता थे। 


बताते चलें कि रविवार को गोपाल जी स्नातकोत्तर महाविद्यालय में एक शोक सभा  का आयोजन हुआ। जिसमें मौजूद लोगों ने अपने संबोधन में कहा कि गोकरन गिरी के निधन से पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।उपस्थित लोगों ने उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित किया।श्रद्धांजलि सभा में मुख्य रूप से गोपाल जी महाविद्यालय के प्रबंधक  अशोक श्रीवास्तव  प्राचार्य डॉ साधना श्रीवास्तव, डॉ श्याम बिहारी शर्मा, जितेंद्र दुबे , संतोष सिंह, संतोष यादव, देवेंद्र यादव, सूर्यकांत सावन, जीएस वर्मा, विकास सिंह, राकेश वर्मा, अमित सिंह राम प्रसाद आदि मौजूद रहे। अंत में संतोष सिंह ने कहा कि इन्होंने जो लोगों के दिल में जगह बना लिया था। हम लोग हमेशा याद रखेंगे।


For More Updates visit www.sikanderpurlive.com thanks for visiting sikanderpur live
Previous Post Next Post