वित्तविहीन शिक्षकों के साथ दुर्व्यवहार कर रही है भाजपा सरकार

वित्तविहीन शिक्षक

सिकंदरपुर। माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा जनपद इकाई बलिया के तत्वधान में गंगोत्री देवी इंटर कॉलेज सिकंदरपुर के सभागार में शुक्रवार को एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसके मुख्य अतिथि माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा उत्तर प्रदेश के प्रदेश महासचिव डॉ कृष्ण मोहन यादव रहे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा में सरकार दोयम दर्जे का व्यवहार कर रही है। पिछले 6 माह से वित्तविहीन शिक्षक आज कोरोनावायरस के कारण विद्यालय में अध्ययन अध्यापन का कार्य बंद होने से भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं, जिनकी समस्याओं को सरकार नजरअंदाज कर रही है। वहीं कोई ऐसा संगठन या कोई ऐसा नहीं है जो इन शिक्षक शिक्षिकाओं की समस्याओं को सरकार के समक्ष रखकर मजबूती से इनका पक्ष रखें। 
इस दौरान उन्होंने बताया कि आगामी एमएलसी के चुनाव में वित्तविहीन शिक्षक ही जीत हासिल करेगा और सरकार को वित्तविहीन शिक्षकों के उद्धार के लिए प्रेरित करेगा। कहा कि हमारा मत उसी को जाएगा जो हमें हर सुविधा मुहैया कराएगा। कहा कि वह खुद एमएलसी का चुनाव लड़कर वित्तविहीन शिक्षकों की समस्याओं को मजबूती से सरकार के सामने रखेंगे तथा उनकी लड़ाई लड़ेंगे। 

उन्होंने वित्तविहीन शिक्षकों से अपील किया कि वह उनके पक्ष में मत करें। बैठक में प्रमुख रूप से राजेश गुप्ता, चंद्र शेखर पांडेय, निकेश राय, दयानंद प्रसाद, सर्वजीत, सुनील शर्मा, बब्बन शर्मा, मोहन प्रसाद, संतोष शर्मा, नवानगर ब्लॉक अध्यक्ष सौरभ कुमार मिश्रा आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता डॉ नरेंद्र प्रसाद गुप्ता व संचालन मदन मोहन गुप्ता ने किया।

sikanderpurlive.com
For More Updates visit www.sikanderpurlive.com
Previous Post Next Post