कोथ में शरारती तत्वों नें मूर्ति विसर्जन के समय काटा बवाल



सिकंदरपुर -थाना क्षेत्र के कोथ में कुछ शरारती तत्वों ने उस समय गांव का माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया जब लक्ष्मी प्रतिमा विसर्जन के दौरान जुलूस में शामिल उन तत्वों ने वर्ग विशेष के मकानों व दरवाजे पर लाठी पीटने के साथ ही  दरवाजों और खिड़कियों पर लगाए गए पर्दों को फाड़ने का प्रयास किया ।सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने त्वरित करवाई कर मामले को आगे बढ़ने से रोका। इस संबंध में डेढ़ दर्जन लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी का प्रयास तेज कर दिया है। गांव में बैठाई गई लक्ष्मी जी की मूर्ति के विसर्जन हेतु देर शाम कमेटी द्वारा जुलूस निकाला गया था जिसमें दर्जनों युवक शामिल थे। गांव में भ्रमण के दौरान जुलूस वर्ग विशेष के मोहल्लों से गुजरने लगा तो उसी समय उसमे शामिल शरारती तत्वों ने अचानक दरवाजे ,खिड़कियां व मकानों पर लाठी पीटना शुरु कर दिया, ऐतराज करने पर उन्होंने दरवाजों व खिडकियों के पर्दों को फाड़ दिया। इस दौरान किसी ने फोन से घटना के बारे में पुलिस को जानकारी दे दिया।सूचना मिलते ही क्षेत्राधिकारी सिकंदरपुर भगवान सहाय व थाना अध्यक्ष अनिल चंद तिवारी पुलिस बल के साथ कुछ देर में ही मौके पर पहुंच गए वहां घटना के बारे में विस्तृत रुप से जानकारी प्राप्त किया । बाद में सूचना पाकर जिला मुख्यालय से पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार एडीएम मनोज सिंघल ,एडिशनल एसपी विजय पाल सिंह भी मौके पर पहुंच गए। अधिकारियों ने घटना के बारे में आवश्यक जानकारी प्राप्त किया। इस दौरान क्षेत्राधिकारी व थानाध्यक्ष फोर्स के साथ मौके पर जमे हुए हैं।

sikanderpurlive.com
Previous Post Next Post